Sunday, 9 July 2017

बिजनेस की पिच पर भी ‘मास्‍टर’ हैं गावस्‍कर

 क्रिकेट इतिहास में सुनील गावस्‍कर किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। गावस्‍कर लगभग 45 सालों से भारतीय क्रिकेट से किसी न किसी तरह जुड़े हैं। उनके क्रिकेट रिकॉर्ड से लेकर शैली तक की चर्चा आज भी होती रहती है। बहुत कम ही लोग जानते हैं कि क्रिकेट दुनिया के लिटिल मास्‍टररहे गावस्‍कर ने बिजनेस की दुनिया में भी खूब नाम कमाया है। सुनील गावस्‍कर क्रिकेट कैरियर के समय में ही बिजनेस की दुनिया में कूद पड़े थे।
  
 उन्‍होंने एडवरटाइजिंग प्रोफेशनल सुमेध शाह के साथ मिलकर 1985 में प्रोफेशनल मैनेजमेंट ग्रुप (पीएमजी) नामक कंपनी बनाई थी। यह भारत की पहली स्‍पोर्ट्स मार्केटिंग कंपनी थी। पीएमजी भारत की एकमात्र ऐसी कंपनी है जो स्‍पोर्ट्स के क्षेत्र में अलग अलग तरह की सर्विस देती है। यह कंपनी हॉकी, बैडमिंटन, पोलो और फुटबॉल समेत अन्‍य गेम्‍स में एक्टिव है। यह कंपनी पिछले 30 सालों से ज्‍यादा समय से अलग अलग स्‍पोर्ट्स के लिए इवेंट और मीडिया मैनेजमेंट का काम करती आ रही है। इसमें क्रिकेट अवार्ड्स, स्‍पॉन्‍सरशिप और कंसल्‍टींग जैसा काम शामिल है। वर्तमान में यह कंपनी सैम बलसारा की एड एंड पीआर एजेंसी मैडिसन वर्ल्‍ड का हिस्‍सा बन गई है।
   गावस्‍कर की इस कंपनी से भारतीय टीम के ओपनर शिखर धवन, सरफराज अहमद और हॉकी कप्‍तान रहे सरदार सिंह जैसे बड़े नाम जुड़े हैं। ये कंपनी इन प्‍लेयर्स के कमर्शियल और मैनेज्‍मेंट का काम देखती है। 1987-88 में  'सुनील गावस्‍कर प्रेजेंटनाम से पहला स्‍पोर्ट्स प्रोग्राम दूरदर्शन पर दिखाया गया था।  इंटरनेशनल क्रिकेटर ऑफ द ईयर अवार्ड की भी शुरुआत इसी कंपनी ने की थी। इस कंपनी ने गोल्‍फ के लिए भी कई अहम इवेंट लॉन्‍च किए।




No comments:

Post a Comment

thanks